उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता कानून पर विधानसभा में लगी मोहर
BREAKING उत्तराखंड देहरादून मुख्य ख़बर

उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता कानून पर विधानसभा में लगी मोहर

Feb 7, 2024
20 Views

उत्तिराखंड की धामी सरकार ने आज विधानसभा में समान नागरिक संहिता कानून पास कर दिया। भाजपा विधायकों ने इसका पूर्ण समर्थन किया। विपक्ष ने जरूर बिल को प्रवर समिति को देने के प्रस्ताव को वापस न लेते हुए कहा कि अभी बिल में कुछ संशोधन की जरूरत है। इसके जवाब में सत्ता पक्ष की तरफ से कहा गया कि यदि आवश्यकता पड़ी तो इसमें संशोधन किया जायेगा।

दरअसल, हाल ही में समान नागरिक संहिता का ड्राफ्ट संबंधित समिति ने सीएम पुष्कर सिंह धामी को सौंपा था। तब पुष्कर धामी ने साफ कहा था कि उत्तराखंड समान नागरिक संहिता लागू करने वाला पहला राज्य होगा। आज विधानसभा में इस ड्राफ्ट पर सहमति की मोहर लगते ही धामी का कथन सही साबित हो गया।

बता दें कि सदन में बीते दो दिन तक सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों ने इस पर चर्चा की। चर्चा के बाद विधानसभा में सभी विधायकों ने समान नागरिक संहिता को लेकर अपना पक्ष रखा। विपक्षी सदस्यों ने इस बिल को प्रवर समिति को देने के वकालत की। उन्होंने कहा कि बिल में कई तरह के संशोधन करने की जरूरत है। इसलिए बिल को प्रवर समिति को दे दिया जाए। विधानसभा अध्यक्ष की ओर से विपक्ष के विधायकों से जब पूछा गया कि क्या आप (विपक्ष) बिल को प्रवर समिति को देने के प्रस्ताव को वापस लेना चाहते है तो विपक्ष ने इससे इनकार कर दिया।

इसके साथ ही बिल पास होते ही भाजपा विधायकों ने विधानसभा में जय श्री राम के नारे लगाये। इससे पहले  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने तकरीबन एक घंटा 20 मिनट विधानसभा में समान नागरिक संहिता पर अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के लिए ऐतिहासिक पल है जब देवभूमि से समान नागरिक संहिता बिल पास होने जा रहा है। मुख्यमंत्री के भाषण के बाद विधानसभा में समान नागरिक संहिता विधेयक पास हो गया।

#UCCInUttarakhand

follow us on 👇

फेसबुक -https://www.facebook.com/groups/480505783445020
ट्विटर -https://twitter.com/firstbytetv_
चैनल सब्सक्राइब करें – https://youtube.com/@firstbytetv
वेबसाइट -https://firstbytetv.com/
इंस्टाग्राम -https://www.instagram.com/firstbytetv/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *