सस्ता हो सकता है हवाई सफर, देश में फिर से कम हुए विमानन ईंधन के दाम
बिजनेस​

सस्ता हो सकता है हवाई सफर, देश में फिर से कम हुए विमानन ईंधन के दाम

Apr 1, 2024
27 Views

हवाई यात्रा करने वाले लोगों को आने वाले दिनों में राहत मिल सकती है. देश में हवाई सफर के किराए में कमी की उम्मीद बढ़ी है, क्योंकि एक बार फिर से विमानन ईंधन के दाम में कटौती की गई है. यह कटौती आज 1 अप्रैल से लागू हो गई है । सरकारी तेल विपणन कंपनियां हर महीने की शुरुआत में विमानन ईंधन के दाम की समीक्षा करती हैं. कंपनियां बाजार के हिसाब से विमानन ईंधन यानी एटीएफ के दाम में कटौती या बढ़ोतरी का फैसला करती हैं. इंडियन ऑयल की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार, तेल कंपनियों ने इस बार फिर से एटीएफ के दाम कम करने का निर्णय लिया है. इससे पहले मार्च में एटीएफ के दाम बढ़ाए गए थे और लगातार चार महीनों से चली आ रही कटौती के सिलसिले पर ब्रेक लग गया था । इंडियन ऑयल की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, आज से दिल्ली में एटीएफ सस्ता होकर 1,00,893.63 रुपये प्रति किलोलीटर हो गया है. इससे पहले मार्च में एटीएफ के दाम बढ़कर दिल्ली में 1,01,396.54 रुपये प्रति किलोलीटर पर पहुंच गए थे. इसका मतलब हुआ कि आज से दिल्ली में एटीएफ के दाम में 502.91 रुपये प्रति किलोलीटर की कटौती की गई है । इसी तरह एटीएफ के दाम अब कम होकर मुंबई में 94,466.41 रुपये प्रति किलोलीटर, कोलकाता में 1,09,898.61 रुपये प्रति किलोलीटर और चेन्नई में 1,04,973.36 रुपये प्रति किलोलीटर हो गया है. अभी भारत में विमानन ईंधन सबसे सस्ता मुंबई में मिल रहा है, जबकि विमानन कंपनियों को ईंधन पर सबसे ज्यादा दर से भुगतान कोलकाता मे करना पड़ रहा है. आज से हुई कटौती के बाद एटीएफ की कीमतों में मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में क्रमश: 342.81 रुपये, 398.22 रुपये और 425.27 रुपये प्रति किलोलीटर की कटौती की गई है । विमान कंपनियों की परिचालन की कुल लागत में तेल के खर्च का योगदान सबसे ज्यादा रहता है. अब जबकि एटीएफ के दाम में आज से फिर कटौती हुई है, विमानन कंपनियों की लागत में कमी आने वाली है. ऐसे में इस बात की उम्मीद बढ़ी है कि विमानन कंपनियां लागत में कमी का लाभ विमानन यात्रियों को भी दें. अगर ऐसा होता है तो हम आने वाले दिनों में हवाई सफर के किराए में कुछ कमी देख सकते हैं ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *