यूपी की पुलिस कमान अब मुकुल गोयल के हाथ, पदभार संभाला
BREAKING उत्तर प्रदेश

यूपी की पुलिस कमान अब मुकुल गोयल के हाथ, पदभार संभाला

Jul 2, 2021
12 Views

1987 बैच के आईपीएस हैं मुकुल

यूपी के अधिकांश जिलों के एसएसपी भी रहे

पदभार ग्रहण से  पहले किये हनुमान सेतु मंदिर में दर्शन

मुख्यमंत्री योगी से मुलाकात के बाद किया पदभार ग्रहण

कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ करना होगी प्राथमिकता

लखनऊ। IPS मुकुल गोयल ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (DGP) का चार्ज संभाल लिया। इससे पहले उन्होंने हनुमान सेतु मंदिर में जाकर दर्शन किये। यहां से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर DGP मुख्यालय पहुंचे और  पदभार संभाल लिया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पांच साल बाद लखनऊ आये हैं। उनकी प्राथमिकता पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ करना रहेगी। हमारा क्राइम कंट्रोल मुख्य कर्तव्य है। पुलिस को और संवेदनशील बनकर जनता के पास जाना होगा।

http://mukul goel is new up police dgp

 नवनियुक्त डीजीपी मुकुल गोयल ने बिकरु कांड पर कहा कि पुलिस और अपराधी के गठजोड़ की वजह से इतनी बड़ी घटना हुई थी। अब ऐसी घटनाएं फिर से न हो। आगामी विधानसभा चुनाव 2022 शांतिपूर्ण संपन्न करवाने के लिए रणनीति बनाई जाएगी। धर्मांतरण के मामले में दोषियों को सजा होगी। कोई भी निर्दोष जेल नहीं जाएगा। अफवाहों को रोकने के लिए सोशल मीडिया पर ठोस नियम बनाए जाएंगे। छोटे अपराधों को पुलिस नजरअंदाज करती है। इसलिए क्राइम बढ़ता है। पुलिस ज्यादा से ज्यादा समय फील्ड में दिखें और हर पीड़ित की सुनवाई हो। नवनियुक्त डीजीपी ने कहा कि जब मैं एडीजी कानून व्यवस्था था, तब इस पुलिस मुख्यालय के लिए जमीन ली गई थी। आज यहां बैठकर अच्छा लग रहा है। छोटे-छोटे अपराधों को नजरंदाज न किया जाए। छोटे अपराधियों पर भी कार्रवाई हो। पुलिस कार्य में तकनीकक का इस्तेमाल जरूरी है। सभी अधिकारी फील्ड में जाएं। अधिकारी ज्यादा से ज्यादा जनता से मिलें।

नवनियुक्त डीजीपी ने कहा कि स्मारक घोटाले में सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। साइबर क्राइम को रोकने के लिए हर जोन में 18 थाने बने हैं। पुलिस को हाईटेक उपकरण और सॉफ्टवेयर मुहैया करवाए जा रहे हैं। साम्प्रदायिक हिंसा और विवाद को रोकने के लिए ठोस योजना बनेगी। महिला सुरक्षा के लिए महिला थाना, पिंक बूथ, महिला हेल्प डेस्क बने हैं और भी सुविधाओं को विकसित किया जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुरुवार को उनको बीएसएफ से रिलीव करने का आदेश जारी कर दिया गया। निवर्तमान डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने मंगलवार को भी चार्ज छोड़कर एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार को सौंप दिया। मुकुल गोयल को विधानसभा चुनाव में पूर्व डीजीपी पद की जिम्मेदारी सौंपकर यूपी सरकार ने उन पर भरोसा जताया है। उनके कार्यभार ग्रहण करने के बाद पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर प्रशासनिक फेरबदल की संभावना जताई जा रही है। खासकर कई डीजी और एडीजी रैंक के अफसरों अधिकारियों को इधर से उधर किया जा सकते है। यूपी कैडर के 1987 बैच के IPS अफसर मुकुल गोयल मूल रूप से मुजफ्फरनगर के शामली के रहने वाले हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *