नया साल आय़ेगा, कोरोना वैक्सीन लायेगा
BREAKING देश-विदेश

नया साल आय़ेगा, कोरोना वैक्सीन लायेगा

41 Views

 

2020 बहुत कुछ हमें दे गया तो बहुत कुछ हम से ले भी गया। नया साल आया तो यह उम्मीद जागी है कि कोरोना वैक्सीन जल्द ही देश तक भी पहुंच जायेगी और नागरिकों को राहत मिलेगी। ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है।अब भारत का नंबर बताया जा रहा है। बता दें कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया तैयार कर रहा है। इसे कोविशील्ड नाम दिया गया है। सीरम में पिछले 8-9 महीने से वैक्सीन बनाने का काम चल रहा है, अब लॉन्च से पहले अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसका इतना स्टॉक है कि पूरे देश की जरूरत को पूरा किया जा सकेगा। फिलहाल जितना स्टॉक अभी तैयार किया गया है, उतना तीन-चार साल में होता है जिसे 6 महीने में तैयार किया गया.
बता दें कि जब वैक्सीन बन जाती है, तो उसे एक छोटी बोतल में भरा जाता है। जिसके बाद पैकेजिंग होती है, अंत में चेक किया जाता है कि बोतल में वैक्सीन के अलावा कुछ और ना जाए। वैक्सीन के डोज को अंतिम रूप देने के बाद सभी डोज को पैक किया जाएगा। जिसे बॉक्स में बंद करके ड्राइ आइस किया जाएगा, फ्रिजर वाले ट्रक से इन्हें देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजा जाएगा। वैक्सीन को सरकारी कोल्ड स्टोरेज में रखा जाएगा।सीरम इंस्टीट्यूट में जो वैक्सीन की बोतल बन रही है, उसमें 10 डोज दी जा सकती हैं।जिसे एक बार खोलने के बाद 4-5 घंटे के भीतर इस्तेमाल की जा सकती है।    
जानकारों का कहना है कि हर वैक्सीन में कुछ न कुछ साइड इफेक्ट होते हैं, लेकिन कोरोना की वैक्सीन में अभी तक जान का खतरा कोई सामने नहीं आया है। एक बार वैक्सीन लग जाए तो शुरू के सात दिन में इफेक्ट दिखना शुरू हो जाते हैं, अभी तक के सारे ट्रायल में कोई दिक्कत नहीं आई है। जिन लोगों को ट्रायल के दौरान वैक्सीन दी गई, उनमें से कुछ ने सिर दर्द और हल्का बुखार होने की बात कही, जो सामान्य दवाई से कुछ दिन में ही ठीक हो गया, ऐसे में कोई बड़ा साइड इफेक्ट नहीं हुआ है। दवा की दो डोज हैं और दोनों ही डोज लेना अनिवार्य है, दूसरी डोज से पहली डोज का अंतराल करीब दो माह है। इस बीच, सावधानी बरतते रहना भी बेहद जरूरी होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *