एक दिन के लिए टला मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, गठबंधन दलों से बातचीत जारी रहने के चलते फैसला ।।
BREAKING देश-विदेश

एक दिन के लिए टला मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, गठबंधन दलों से बातचीत जारी रहने के चलते फैसला ।।

Jul 6, 2021
11 Views
  • जेडीयू की बड़ी उम्मीदें, विस्तार में एक सीट मंज़ूर नहीं
  • फोन की घंटी बजनी शुरू, सोनोवाल और नारायण राणे को दिल्ली बुलाया गया
  • पीएम मोदी के घर आज बड़ी बैठक, विस्तार पर हो सकती है चर्चासूत्रों के मुताबिक़ केंद्रीय कैबिनेट विस्तार से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आयी है. जानकारी के मुताबिक मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार को एक दिन के लिए टाला जा सकता है. दरअसल गठबंधन दलों से कैबिनेट विस्तार पर बातचीत जारी रहने के चलते यह फैसला किया गया है. इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के दिल्ली लौटने का भी इंतजार किया जा रहा है । जेपी नड्डा आज देर शाम हिमाचल प्रदेश के दौरे से दिल्ली लौटेंगे. उनके वापस लौटने के बाद जेपी नड्डा के दफ्तर से ही उन तमाम नेताओं को फोन किया जाएगा, जिन्हें मंत्री बनना है. इन नेताओं से जेपी नड्डा कल सुबह या दोपहर को मुलाकात भी कर सकते हैं. इसके बाद परसों सुबह मंत्री मंडल का विस्तार हो सकता है । कैबिनेट विस्तार को लेकर बिहार से भी बड़ी खबर सामने आयी है. सूत्रों के मुताबिक़ जेडीयू को कैबिनेट विस्तार में एक सीट मंज़ूर नहीं है. जेडीयू कैबिनेट विस्तार में अपने लिए तीन मंत्री पदों की उम्मीद कर रही है. सूत्रों के मुताबिक़ जेडीयू चाहती है कि उसे कैबिनेट विस्तार में एक कैबिनेट और 2 राज्यमंत्रियों का पद मिलेगा. अभी तक की ख़बर के मुताबिक़ जेडीयू से पार्टी अध्यक्ष आरसीपी सिंह को मंत्री बनाया जा सकता है । असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को भी दिल्ली बुलाया गया है. सोनोवाल आज ही दोपहर तीन बजे तक दिल्ली पहुंचने वाले हैं. नारायण राणे को भी दिल्ली बुलाया गया है. बीजेपी अध्यक्ष दफ़्तर से नारायण राणे को फोन पहुंचने की पुष्टि हुई है. जानकारी के राणे मुताबिक मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते हैं. आज दोपहर 1:30 बजे गोवा से दिल्ली के लिए रवाना होंगे । जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी आज अपने घर पर एक अहम बैठक कर सकते हैं. प्रधानमंत्री के घर होने वाली इस बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावे कई अन्य वरिष्ठ मंत्री शामिल हो सकते हैं. कैबिनेट विस्तार में कई पूर्व मुख्यमंत्रियों और कुछ राज्यों के पूर्व उप मुख्यमंत्रियों को भी जगह मिल सकती है. हालांकि नाम को लेकर तस्वीर अभी तक पूरी तरह से साफ नहीं हो पाई है ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *