एक अगस्त से एटीएम पर लेनदेन हो जायेगा महंगा, इंटरचेंज शुल्क 15 से 17 रूपये बढ़ेगा
BREAKING राष्ट्रीय

एक अगस्त से एटीएम पर लेनदेन हो जायेगा महंगा, इंटरचेंज शुल्क 15 से 17 रूपये बढ़ेगा

Jul 28, 2021
8 Views

 

नई दिल्ली। एटीएम पर लेनदेन के लिए इंटरचेंज शुल्क को 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये कर दिया गया है। आरबीआई द्वारा घोषित की गई बढ़ोतरी एक अगस्त से प्रभावी होगी। जून के महीने में आरबीआई ने इसकी घोषणा कर दी थी। अब एक अगस्त से यह प्रभावी होगी।

याद दिला दें कि भारतीय रिजर्व बैंक ने जून में घोषणा की थी कि राष्ट्रीय स्वचालित समाशोधन गृह (एनएसीएच) एक अगस्त 2021 से सप्ताह के सभी दिनों में उपलब्ध होगा। एनएसीएच, एक थोक भुगतान प्रणाली है जो कि राष्ट्रीय पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा संचालित है। यह एक से कई क्रेडिट ट्रांसफर की सुविधा देता है जैसे कि लाभांश, ब्याज, वेतन और पेंशन का भुगतान। यह बिजली, गैस, टेलीफोन, पानी, ऋण के लिए आवधिक किश्तों, म्यूचुअल फंड में निवेश और बीमा प्रीमियम से संबंधित भुगतानों के संग्रह की सुविधा भी प्रदान करता है.

महंगा होगा एटीएम नकद निकासी
आरबीआई घोषणा कर चुका है कि एटीएम पर लेनदेन के लिए इंटरचेंज शुल्क को 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये कर दिया गया है। एटीएम के रखरखाव पर होने वाले खर्च को ध्यान में रखते हुए नौ साल बाद इंटरचेंज शुल्क में बढ़ोतरी की गई है, जिसे बैंकों को वहन करना पड़ता है। गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए शुल्क 5 रुपये से 6 रुपये तक बढ़ा दिया गया है।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) भी पहले ही घोषणा कर चुका है कि जो ग्राहक इसकी डोरस्टेप सेवाओं का उपयोग करेंगे, उन्हें अब अतिरिक्त शुल्क देना होगा।  वह डोरस्टेप सेवा के लिए प्रत्येक अनुरोध के लिए 20 रुपये (प्लस जीएसटी) चार्ज करना शुरू कर देगा। यह 1 अगस्त से लागू होगा। वर्तमान में आईपीपीबी के जरिए दी जाने वाली डोरस्टेप बैंकिंग पर कोई शुल्क नहीं है। हालांकि जब आईपीपीबी कर्मी किसी ग्राहक के घर सेवा के लिए जाते हैं तो लेनदेन की संख्या पर कोई सीमा नहीं होगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *