BREAKING दिल्ली-एनसीआर

ईडी की जांच सूची में 122 जनप्रतिनिधि, भाजपा के भी कई प्रमुख नाम शामिल

Aug 10, 2021
18 Views

 

मनी लांड्रिंग के मामले में चल रहे केस 

विपक्षी हस्तियों के नामों की लंबी सूची

भाजपा के भी कई नामचीन हस्तियां जांच के दायरे में 

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सुप्रीम कोर्ट को जानकारी दी है कि देश में 122 मौजूदा और पूर्व सांसदों और विधायकों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के केस चल रहे हैं। ईडी ने इनकी लिस्ट भी कोर्ट में जमा की है। लिस्ट में कई विपक्षी हस्तियों सहित राजनीतिक जगत के कई हाई प्रोफाइल नाम शामिल हैं। सूची में भाजपा के भी कई प्रमुख नाम भी शामिल हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के अनुसार सुप्रीम कोर्ट में लिस्ट की शुरुआत ए राजा और के कनिमोझी से होती है। इन लोगों ने साल 2010 में 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में सीबीआई की चार्जशीट के बाद मनी लॉन्ड्रिंग के केस का सामना किया था। बाद में दोनों को बरी कर दिया गया और सीबीआई की अपील दिल्ली हाई कोर्ट में लंबित है।

लिस्ट में अगला नंबर पी चिदंबरम और कार्ति के पिता-पुत्र की जोड़ी है। यह जोड़ी दो-दो मामलों का सामना कर रही है। इनमें पहला साल 2012 में एयरसेल-मैक्सिस सौदे में गड़बड़ी को लेकर दर्ज किया गया था,और दूसरा साल 2017 में मीडिया में एफडीआई को मंजूरी को लेकर दर्ज किया गया था।

लिस्ट में कई पूर्व मुख्यमंत्रियों के नाम भी दर्ज हैं।  इनमें भाजपा के बीएस येदियुरप्पा, कांग्रेस के बीएस हुड्डा, वीरभद्र सिंह (निधन के बाद), ओ इबोबी सिंह, जेडीएस के गेगोंग अपांग, कांग्रेस के नबाम तुकी, इनेलो के ओपी चौटाला (ट्रायल पूरा), एनसीपी के चर्चिल अलेमाओ और कांग्रेस के दिगंबर कामत और अशोक चव्हाण शामिल हैं. ईडी की इस लिस्ट में सुवेंदु अधिकारी, मुकुल रॉय, फारूक अबदुल्ला, लालू प्रसाद यादव, जगन रेड्डी और अमरिंदर सिंह का नाम भी शामिल है।

लिस्ट में जिन मौजूदा और पूर्व सांसदों का नाम दिया गया है उनमें प्रमुख रूप से डीएमके के दयानिधि मारन (दो मामले), नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला (2020), फरार व्यवसायी विजय माल्या (दो मामले) शामिल हैं. इसके अलावा आजेडी के के लालू प्रसाद यादव, कांग्रेस के पूर्व सांसद सुरेश कलमाड़ी, टीएमसी के सुदीप बंदोपाध्याय, तापस पाल, सृंजॉय बोस और कुणाल घोष, डीएमके के पूर्व सांसद केसी पलानीस्वामी, स्वर्गीय मतंग सिंह, पूर्व कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल (दो मामले), कांग्रेस सांसद ए रेवंत रेड्डी और पूर्व मीडिया बैरन वेंकटराम रेड्डी के नाम शामिल हैं। ईडी की मौजूदा और पूर्व विधायकों की सूची में तृणमूल के कई ऐसे मामले शामिल हैं, जो सारदा घोटाले जैसे मामलों का सामना कर रहे हैं।

ईडी की लिस्ट में जिन प्रमुख नेताओं के नाम शामिल हैं उनमें भाजपा सदस्य मिथुन चक्रवर्ती, टीएमसी की अर्पिता घोष, शताब्दी रॉय, मुकुल रॉय, सौगत रॉय, काकोली घोष दस्तीदार, प्रसून बनर्जी और अपरूपा पोद्दार। टीएमसी से बीजेपी में शामिल हुए सुवेंदु अधिकारी भी हैं। इसके साथ ही लंबे समय से कांग्रेस के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोहरा (निधन के बाद से), तृणमूल के राज्यसभा सांसद के डी सिंह, अन्नाद्रमुक के पूर्व नेता टीटीवी दिनाकरण और लालू की बेटी मीसा भारती शामिल हैं।

दिलचस्प बात यह भी है कि ईडी की इस लिस्ट में मौजूदा मुख्यमंत्री सीएम अमरिंदर सिंह (पंजाब) और वाई एस जगन मोहन रेड्डी का भी नाम है। सूची में प्रमुख मौजूदा और पूर्व विधायक झामुमो के सीता सोरेन, एनसीपी के छगन भुजबल, कांग्रेस के डी के शिव कुमार, लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव और तृणमूल के मदन मित्रा, सुब्रत मुखर्जी, सोवन चटर्जी और श्यामपदा मुखर्जी हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *