15 दिनों से अडानी एन्टरप्राइजेज के शेयरों में जोरदार उछाल, आज भी 15 फीसदी की रैली
Uncategorized

15 दिनों से अडानी एन्टरप्राइजेज के शेयरों में जोरदार उछाल, आज भी 15 फीसदी की रैली

Mar 3, 2023
38 Views

अडानी ग्रुप के शेयरों में जोरदार उछाल देखा गया है। 24 जनवरी को हिंडनबर्ग द्वारा जारी रिपोर्ट में अडानी समूह पर शेल फर्माे के ज़रिये धोखाधड़ी और हेर फेर करने का आरोप लगाया गया था। इसी के बाद ग्रुप के शेयर भी टूटे थे।

हिंडनबर्ग द्वारा मिले इस झटके के बाद अब जाकर धीरे धीरे शेयर रिकवर होने शुरू हुए हैं। शेयरों मे उझाल शुक्रवार को देखा गया। 1:30 बजे के आसपास स्टाॅक 13 फीसदी से उझलकर 1831.00 रूपये पर ट्रेड करने लगा था। जबकि गुरूवार को ये शेयर 1607.25 रूपये पर बंद हुए थे। हिंडनबर्ग द्वारा जारी रिपोर्ट के बाद अब एक बार फिर शेयरो में उझाल आया है। खास बात ये है अडानी एन्टरप्राजेज का स्टाॅक 52 वीक के लो लेवल की रिकवर कर चुका है। ग्रुप ने 1,017.10 रूपये से 75.49 फीसदी तक की रिकवरी कर ली है। बता दें ये उझाल अमेरिकी ग्रुप जीक्युजी [GQG] पार्टनर्स इंक द्वारा 15,466 करोड़ रूपये के शेयर अडानी ग्रुप मे लेने के बाद आया है। पिछले पांच दिनो के भीतर अडानी एन्टरप्राजेज के शेयर में 41 फीसदी तक की बढ़ोत्तरी हुई है।

पिछली बार अडानी स्टाॅक 5 दिन और 10 दिवसीय एवरेज से उपर देखा गया था। लेकिन 50,100 और 200 दिनो की मूविंग एवरेज से कम था। काउंटर का 14 दिनों का रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स 44.38 पर आया था। 70 से उपर के मूल्य को ओवरबाॅट माना जाता है। जबकि 30 से नीचे के स्तर को ओवरसोल्ड माना जाता है।

हिंडनबर्ग की रिपोर्ट ने दिया था झटका

24 फरवरी को हिंडनबर्ग की रिपोर्ट ने अडानी के शेयरों मे उथल पुथल मचा दी थी। इस रिपोर्ट मे अडानी ग्रुप पर शेल फर्मों के ज़रिये स्टाॅक में हेरफेर व धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया था। जिसके चलते ग्रुप की तमाम कंपनियों के कैपिटालाइजेशन में करीब 60 से 70 फीसदी तक की गिरावट आई थी। हालांकि अडानी ग्रुप द्वारा हिंडनबर्ग के सभी आरोपो को खारिज कर दिया गया था।

follow us on facebook https://www.facebook.com/groups/480505783445020
follow us on twitter https://twitter.com/home
follow us on you tube https://www.youtube.com/channel/UCQAvrXttAEoWXP6-4ATSxDQ
follow us on website https://firstbytetv.com/

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *