भारतीय खिलाड़ियों पर इंग्लैंड में क्वारंटीन के बेहद सख्त नियम लागू, मिलने पर भी रोक
स्पोर्ट्स

भारतीय खिलाड़ियों पर इंग्लैंड में क्वारंटीन के बेहद सख्त नियम लागू, मिलने पर भी रोक

Jun 5, 2021
10 Views

नई दिल्ली। इंडियन क्रिकेट टीम आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल खेलने के लिए इंग्लैंड पहुंच गई है। न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जून को होने वाले फाइनल से पहले टीम इंडिया के खिलाड़ियों को थोड़ा मुश्किल वक्त गुजराना पड़ेगा। इंडिया में कोरोना वायरस महामारी की वजह से बने हालात को देखते हुए इंग्लैंड में क्वारंटीन के बेहद सख्त नियम लागू हैं। बीसीसीआई ने जानकारी दी है कि टीम इंडिया के खिलाड़ी साउथेम्पटन के एजेस बाउल पहुंचने के बाद क्वारंटीन हो गए हैं। इतना ही नहीं क्वारंटीन पीरियड में खिलाड़ियों को तीन दिन तक एक-दूसरे से मिलने की इजाजत भी नहीं होगी।

विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने मैदान में ही स्थित अपने होटल के कमरों में पहुंचने के साथ ही गुरुवार को एजेस बाउल से अपनी तस्वीरें पहले ही ट्वीट कर दी थीं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भारत से टीम की यात्रा के एक छोटे वीडियो के साथ ट्वीट किया,” टीम इंडिया के इंग्लैंड पहुंचने पर रोमांच चरम पर है.”

 

वीडियो में खिलाड़ियों को इंग्लैंड की लंबी यात्रा के दौरान फिल्में देखने के अलावा सोते हुए दिखाया गया है। वीडियो में दिखाया गया है कि बेस कैम्प पहुंचने के बाद खिलाड़ी आइसोलेट हो गए हैं. एजेस बाउल ही विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए बेस कैम्प है। इसी  पर भारत को 18 जून से न्यूजीलैंड के साथ टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेलना है.

महिला टीम भी पहुंची है इंग्लैंड

बीसीसीआई ने कोविड -19 महामारी के मद्देनजर पुरुष और महिला दोनों टीमों को इंग्लैंड पहुंचाने के लिए एक चार्टर फ्लाइट की व्यवस्था की थी। विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय पुरुष टीम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18-22 जून के बीच न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलेगी। इसके बाद 4 अगस्त से उसे इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। महिला टीम साउथेम्प्टन में क्वारंटाइन चरण के बाद ब्रिस्टल में 16 जून से इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट खेलेगी। इसके बाद महिला टीम इंग्लैंड के साथ ही तीन मैचों की वनडे सीरीज और इतने ही मैचों की टी20 सीरीज खेलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *