खालिस्तान समर्थक अमृतपाल अभी गिरफ्तार नहीं, उड़ी थी अफवाह

0
अमृतपाल सिंह। फोटो फाइल

अमृतपाल सिंह। फोटो फाइल

  • अमृतपाल सिंह के नौ साथी  गिरफ्तार
  • पंजाब में चौबीस घंटे के लिये इंटरनेट सेवा बंद
  • छह जिलों की फोर्स ने खासी मशक्कत के बाद किया गिरफ्तार
  • अमृत पाल भगोड़ा घोषित, तलाश जारी
  • अभी तक 78 समर्थक गिरफ्तार

पंजाब पुलिस के लिये सिर दर्द बने खालिस्तान समर्थक अमृतपाल के नौ साथियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पंजाब पुलिस द्वारा की गई गिरफ्तारी के बाद बवाल की आशंका देखते हुए पंजाब में अगले 24 घंटे केलिये मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई हैं। पुलिस से लगातार भाग रहे अमृतपाल सिंह को पंजाब के छह जिलों की फोर्स ने लगभग डेढ़ घंटा पीछा करने के बाद जालंधर के नकोदर एरिया से गिरफ्तार किया है। ऐसी सूचना दोपहर बाद प्रसारित हुई थी जिसका बाद में खंडन कर दिया गया। गिरफ्तारी की सूचना पर मोहाली में नंगी तलवारे लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गये थे। इस बीच, अमृतपाल के फाइनेंसर दलजीत कलासी को गुरूग्राम से गिरफ्तार कर लिया गया है।

इनके अलावा अमृतसर में अमृतपाल के दो साथी बालसरां जोधा गांव का हरमेल सिंह जोध और शेरो गांव का हरचरण सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार लोगों में नौवां शख्स मोगा का भगवंत सिंह उर्फ बाजेके है जिसे उसके खेतों से गिरफ्तार किया गया। पुलिस देखकर वह भाग खड़ा हुआ था लेकिन अंतत उसे पकड़ लिया गया।

अमृतपाल सिंह।

पंजाब सरकार ने राज्य में शनिवार दोपहर 12 बजे से रविवार दोपहर 12 बजे तक मोबाइल इंटरनेट और बल्क SMS सेवाएं बंद कर दी  है। इस गिरफ्तारी के विरोध में मोहाली में निरंग सड़क पर उतर आये हैं। यहां चंडीगढ़-मोहाली बॉर्डर पर लगे इंसाफ मोर्चा में मौजूद लगभग 150 निहंग नंगी तलवारें और डंडे लेकर सड़क पर जमा हो गये हैं।

बता दें कि खालिस्तान समर्थक संगठन ‘वारिस पंजाब दे’ के प्रमुख अमृतपाल के खिलाफ तीन केस दर्ज हैं। अपने एक करीबी की गिरफ्तारी से क्षुब्ध  अमृतपाल ने 23 फरवरी को समर्थकों संग अजनाला थाने पर हमला कर दिया था। कोई कार्रवाई न करने पर इसे लेकर पंजाब पुलिस की खासी फजीयत हुई थी।

इससे पूर्व आज शनिवार को अमृतपाल ने जालंधर-मोगा नेशनल हाईवे पर शाहकोट-मलसियां इलाके और बठिंडा जिले के रामपुरा फूल में कार्यक्रम रखे थे। वहां समर्थक सुबह से जुटने शुरू हो गये थे। इसे देखते हुए जालंधर और मोगा पुलिस ने जॉइंट ऑपरेशन में अमृतपाल को गिरफ्तार करने की रणनीति बना ली थी। आसपास के कई जिलों से भी गुपचुप पुलिस फोर्स बुला ली गई थी। जालंधर-मोगा नेशनल हाईवे पर भी सुबह से ही भारी नाकेबंदी कर दी गई। दोपहर एक  बजे जैसे ही अमृतपाल का काफिला जालंधर के मैहतपुर कस्बे के नजदीक पहुंचा, पुलिस ने घेरा डाल लिया। काफिले में सबसे आगे चल रही दो गाड़ियों में सवार 6 लोगों को पकड़ लिया गया। काफिले में तीसरे नंबर पर चल रही अमृतपाल की कार के चालक ने यह देख अपनी मर्सिडीज गाड़ी लिंक रोड की तरफ मोड़ दी। यहां से पुलिस ने उसका पीछा किया।  उसकी गिरफ्तारी की सूचना भी आई लेकिन कई घंटे बाद पुलिस ने इसे अफवाह करार दिया।

follow us on 👇

https://www.facebook.com/groups/480505783445020
https://twitter.com/home
https://www.youtube.com/channel/UCQAvrXttAEoWXP6-4ATSxDQ
https://firstbytetv.com/

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: